Twitter labels video retweeted by Donald Trump as manipulated

0
20


ट्विटर ने फर्जी/डॉक्टर्ड वीडियो की पहचान करने वाली नीति का पहली बार प्रयोग करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा ट्वीट किए गए एक वीडियो की इस श्रेणी में पहचान की है। इस वीडियो में विरोधी डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता जो बाइडेन ट्रंप के फिर से चुने जाने का समर्थन करते से नजर आ रहे हैं।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म अतीत में इस तरह के फर्जी या डॉक्टर्ड वीडियो से निपटने के लिए काफी संघर्ष करता रहा है, लेकिन इस क्रम में उसपर यह भी आरोप लगे कि इन फर्जी वीडियो को हटाने के चक्कर में उसने कई लोगों के राजनीतिक विचारों को भी दबाया है।

कंपनी ने पिछले ही सप्ताह घोषणा की थी कि वह ऐसे वीडियो/तस्वीरों पर नजर रखेगा जो डॉक्टर्ड हैं या जिनमें जानबूझकर छेड़छाड़ की गई है। उसी दिन कंपनी ने कहा था कि वह घृणा फैलाने वाले भाषणों पर प्रतिबंध में भी विस्तार करेगा।

ट्रंप ने कहा, अमेरिका के जाने के बाद अफगानिस्तान को हथिया सकता है तालिबान

व्हाइट हाउस के सोशल मीडिया निदेशक डैन स्काविनो द्वारा ट्वीट किए गए इस क्लिप में बाइडेन लोगों से कहते नजर आ रहे हैं, ”हम सिर्फ डोनाल्ड ट्रंप को पुन:निर्वाचित कर सकते हैं।” ट्रंप ने इसी फुटेज को रीट्वीट किया और सोमवार तक करीब 60 लाख लोगों ने इसे देखा।

यह वीडियो डॉक्टर्ड है और इसमें बाइडेन के वाक्य के अंतिम हिस्से को काट दिया गया है। वीडियो में बाइडेन के जुमले के अंत को क्रॉप कर दिया गया जिसमें वह मिसौरी में एक हालिया प्रचार अभियान में पार्टी एका पर चर्चा कर रहे थे।

बाइडेन ने कहा था, ”हम डोनाल्ड ट्रंप को तभी पुन:निर्वाचित कर सकते हैं, जब हम चारों ओर से गोलियों से भूने जाने की हालत में पहुंच जाएं।” ट्विटर ने इस वीडियो क्लिप को ‘डॉक्टर्ड बताया है जिसके बाद सोमवार (9 मार्च) के एक अन्य ट्वीट में स्काविनो ने इसका खंडन किया है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here