U19 World Cup India Would Like To Become 5th Time Champion – अंडर-19 विश्व कप : पांचवीं बार चैम्पियन बनना चाहेगी टीम इंडिया, बांग्लादेश की नजर पहले खिताब पर

0
24


Priyam Garg की कप्तानी वाली भारतीय टीम पांचवीं बार खिताब जीतकर इतिहास रचना चाहेगी तो बांग्लादेश की नजर अपने पहले खिताब पर है।

पोचेफस्ट्रम : मौजूदा विजेता भारत रविवार को जब बांग्लादेश के खिलाफ आईसीसी अंडर-19 विश्व कप 2020 (U19 World Cup 2020) का फाइनल खेलने उतरेगा तो उसके जेहन में इस खिताब को लगातार दूसरी बार जीतकर इतिहास रचने का होगा। बता दें कि सबसे ज्यादा चार बार इस खिताब को अपनी झोली में डालने वाली टीम इंडिया ने कभी लगातार दो बार यह टूर्नामेंट नहीं जीता है। हालांकि वह इस बार को मिलाकर लगातार चौथी बार विश्व कप के फाइनल में पहुंची है। प्रियम गर्ग (Priyam Garg) की कप्तानी वाली भारतीय टीम पांचवीं बार खिताब जीतकर इतिहास रचने का मौका चूकना नहीं चाहेगी।

उलटफेर करने में माहिर है बांग्लादेश

इस टूर्नामेंट में भारत ने अभी तक अपने सभी मैचों एकतरफा अंदाज में जीता है, लेकिन फाइनल तक पहुंची बांग्लादेश के खिलाफ मुकाबला कड़ा होने की उम्मीद है। वह इस टूर्नामेंट में कई उलटफेर कर यहां तक पहुंची है। उसने सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड को मात देकर पहली बार विश्व कप के फाइनल में जगह बनाई है और वह भी इतिहास रचने का मौका नहीं चूकना चाहेगी।

गांगुली गए इग्लैंड दौरे पर, ईसीबी और सीए के साथ हो सकती है 4 देशों की सीरीज पर चर्चा

भारतीय खिलाड़ियों ने किया है शानदार प्रदर्शन

भारतीय अंडर-19 टीम के करीब-करीब सभी खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया है। बल्लेबाजी में यशस्वी जायसवाल ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए तीन अर्धशतक और एक शतक लगाया है। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने टूर्नामेंट में अभी तक 156 की औसत से सर्वाधिक 312 रन बनाए हैं। उन्होंने सेमीफाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ शानदार शतक लगाया था। वहीं गेंदबाजी में कार्तिक त्यागी, सुशांत मिश्रा, रवि बिश्नोई और अथर्व अंकोलेकर ने लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है। इनमें भी कार्तिक और बिश्नोई का प्रदर्शन तो चमत्कारिक रहा है।

पहली बार फाइनल में पहुंचने से बांग्लादेश का आत्मविश्वास सातवें आसमान पर

पहली बार अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप के फाइनल में पहुंचने से बांग्लादेश का आत्मविश्वास सातवें आसमान पर है। टूर्नामेंट से पहले उसके कप्तान अकबर अली ने कहा था कि उनकी टीम विश्व विजेता बन सकती है और अपने प्रदर्शन से खिताब की दहलीज तक पहुंचकर कप्तान ने साबित किया है कि उनका बयान बड़बोलापन नहीं था। कीवी टीम के खिलाफ उनकी बल्लेबाजी मजबूत पक्ष बनकर उभरी थी। महमूदुल हसन जॉय ने शतक लगाया था। अब देखना है कि भारत जैसी मजबूत टीम के खिलाफ वह क्या अपना वह प्रदर्शन बरकरार रख पाती है। रविवार को विलोमोरे पार्क पर होने वाले खिताबी मुकाबले में ही पता चलेगा कि कौन कितने पानी में है।

इंग्लैंड के आलराउंडर लियाम प्लंकेट खेल सकते हैं अमरीका से क्रिकेट, चल रही है बातचीत

दोनों टीमें (संभावित) :

भारत : प्रियम गर्ग (कप्तान), कार्तिक त्यागी, यशस्वी जायसवाल, विद्याधर पाटील, तिलक वर्मा, शुभांग हेगड़े, दिव्यांश सक्सेना, रवि बिश्नोई, शास्वत रावत, ध्रुव जुरेल, सिद्देश वीर, आकाश सिंह, अथर्व अंकोलेकर, सुशांत मिश्रा और कुमार कुशाग्र।

बांग्लादेश : अकबर अली (कप्तान), तौहित हृदॉय, शेरीफुल इस्लाम, तंजीद हसन, मृत्युंजय चौधरी, रकीबुल हसन, शहादत हुसैन, शमीम हुसैन, अभिषेक दास, महमूदुल हसन जॉय, प्रांतिक नवरोसे नबील, परवेज हुसैन, तंजीम हसन साकिब, शाहीन आलम और हसन मुराद।








LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here