Us President Donald Trump Deliver His Third State Of The Union Address – स्टेट ऑफ द यूनियन: पहले ट्रंप ने पेलोसी से नहीं मिलाया हाथ, जवाब में स्पीकर ने फाड़ी संबोधन की कॉपी

0
40


ख़बर सुनें

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले महाभियोग के बीच ‘स्टेट ऑफ द यूनियन एड्रेस’ के तहत संसद के दोनों सदनों के साझा सत्र को संबोधित किया। यह ट्रंप का तीसरा स्टेट ऑफ द यूनियन संबोधन था। ट्रंप के संबोधन शुरू करने से पहले संसद के निचले सदन (हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स) की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने अभिवादन के तौर पर उनसे हाथ मिलाने के लिए बढ़ाया। लेकिन ट्रंप ने उन्हें नजरअंदाज कर दिया। इसके बाद जैसे ही ट्रंप ने भाषण खत्म किया पेलोसी ने संसद में सबके सामने उनके संबोधन की कॉपी फाड़ दी। 

 

 

 

 

ट्रंप के भाषण की मुख्य बातें:-

  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका अब दुनिया में तेल और प्राकृतिक गैस का सबसे बड़ा उत्पादक बन गया है। मेरे सरकार ने तीन साल में ही  35 लाख लोगों को राजगार दिया है। 
  • अमेरिका का बड़ा, बेहतर और पहले से कहीं अधिक मजबूत होने का सपना वापस आया है।
  •  मेरा प्रशासन इस वक्त कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद का मुकाबला कर रहा है।
  • पिछले हफ्ते, मैंने इजरायल और फिलिस्तीनियों के बीच शांति के लिए एक शानदार योजना की घोषणा की। यह स्वीकार करते हुए कि पिछले सभी प्रयास विफल हो गए हैं, हमें इस क्षेत्र को स्थिर करने के लिए दृढ़ और रचनात्मक होना चाहिए।
  • ईरानी शासन को अपने परमाणु हथियारों पर काम करना छोड़ देना चाहिए। आतंक, मौत और विनाश को फैलाना बंद करना चाहिए और अपने लोगों की भलाई के लिए काम करना शुरू करना चाहिए।
  • हमारे शक्तिशाली प्रतिबंधों के कारण ईरानी अर्थव्यवस्था बहुत खराब काम कर रही है, हम उन्हें बहुत अच्छे और कम समय में रिकवरी करने में मदद कर सकते हैं, लेकिन शायद वे अति गर्व या मुर्खता की वजह से मदद के लिए पूछना नहीं चाहते हैं। हम यहां हैं, देखते हैं कि वे कौन सा रास्ता चुनते हैं, यह उनके ऊपर निर्भर है।
  • तीन साल पहले, आईएसआईएस के बर्बर लोगों ने इराक और सीरिया में लगभग 20,000 वर्ग मील क्षेत्र पर कब्जा कर लिया था, आज आईएसआईएस प्रादेशिक खिलाफत सौ फीसदी नष्ट हो गई है और आईएसआईएस के संस्थापक और नेता अल-बगदादी मर चुका है।
  • तीन साल के कार्यकाल में अमेरिका उस रफ्तार से आगे बढ़ा है, जिसकी कुछ समय पहले तक कल्पना करना मुश्किल था।
  • अपने कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाते हुए और अगले कार्यकाल के अपने दृष्टिकोण को स्पष्ट करते हुए कहा कि तीन साल पहले हमने ‘ग्रेट अमेरिकन कमबैक’ की शुरुआत की थी। आज मैं उसके अद्भुत नतीजे साझा करने के लिए आपके सामने खड़ा हूं।
  • अमेरिकी प्रशासन राष्ट्रीय सुरक्षा का दृढ़ता से बचाव कर रहा है और अमेरिकी नागरिकों का बचाव करते हुए, हम पश्चिम एशिया में अमेरिकी युद्ध को खत्म करने के लिए काम कर रहे हैं।
  • मेक्सिको के साथ लगी दक्षिणी सीमा की रक्षा करने के उनके प्रशासन द्वारा उठाए गए अभूतपूर्व कदमों पर जोर देते हुए कहा कि देश कानून का पालन करने वालों का अभयारण्य होना चाहिए न की अपराधियों का।
  •  चीन दशकों तक अमेरिका का फायदा उठाता रहा अब हमने वह बदल दिया है, लेकिन इसी के साथ ही हमारे चीन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ पहले से कहीं अच्छे संबंध हैं।कोरोनावायरस से निपटने के लिए हम चीन के साथ मिलकर इसका समाधान खोज रहे हैं। 
  •  कुछ दिन पहले, हमने चीन के साथ एक ऐतिहासिक समझौते पर हस्तक्षर भी किए थे, जो हमारे कर्मचारियों का बचाव करेगा, बौद्धिक सम्पदा की रक्षा करेगा, अरबों डॉलर हमारे कोष में लाएगा और अमेरिका में बने और बढ़े उत्पादों के लिए नए विशाल बाजार खोलेगा।

 

यह संबोधन स्थानीय समय के अनुसार मंगलवार रात नौ बजे (ईटी) यानि भारतीय समयानुसार बुधवार सुबह 7:30 बजे शुरू हुआ। स्टेट ऑफ द यूनियन का विषय ‘ग्रेट अमेरिकन कमबैक’  (अमेरिका की महान वापसी) था।

इस संबोधन को व्हाइट हाउस और दुनिया भर के कई समाचार नेटवर्कों द्वारा लाइव-स्ट्रीम किया गया। ट्रंप का ‘स्टेट ऑफ द यूनियन’ संबोधन ऐसे समय में आया जब सत्ता के दुरुपयोग और न्याय में बाधा के आरोपों को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति के संभावित दोषी ठहराए जाने के फैसले पर वोट करने के लिए सीनेटरों को उकसाया गया है।

यूनिवर्सिटी ऑफ एकॉन पॉलिटिकल साइंस के प्रोफेसर डेविड कोहेन के हवाले से कहा गया है कि हमारे राष्ट्र के इतिहास में यह अभूतपूर्व है कि फिर से चुनाव के लिए एक महाभियोगी राष्ट्रपति का चुनाव हुआ है। ट्रंप का यह भाषण व्हाइट हाउस में उनके कार्यकाल का तीसरा ‘स्टेट ऑफ द यूनियन’ संबोधन है। 

देश के 244 साल के इतिहास में यह तीसरी बार है जब किसी अमेरिकी राष्ट्रपति को पद से हटाने के लिए महाभियोग लाया गया है। इससे पहले 1868 में एंड्रयू जॉनसन और 1998 में बिल क्लिंटन के खिलाफ दोनों सदन द्वारा महाभियोग लाया गया था, लेकिन सीनेट के परीक्षण में बरी हो गए थे। एक अन्य राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन ने 1974 में एक राजनीतिक भ्रष्टाचार घोटाले में कुछ महाभियोग के कारण इस्तीफा दे दिया था।

आज ट्रम्प के महाभियोग पर भी होगी वोटिंग 

अमेरिकी संसद के उच्च सदन- सीनेट में बुधवार को ट्रम्प के महाभियोग प्रस्ताव पर वोटिंग होगी। ऐसे में माना जा रहा है कि ट्रंप अपने खिलाफ आरोपों पर भी बोल कर सांसदों को अपने पक्ष में वोट करने के लिए मना सकते हैं।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले महाभियोग के बीच ‘स्टेट ऑफ द यूनियन एड्रेस’ के तहत संसद के दोनों सदनों के साझा सत्र को संबोधित किया। यह ट्रंप का तीसरा स्टेट ऑफ द यूनियन संबोधन था। ट्रंप के संबोधन शुरू करने से पहले संसद के निचले सदन (हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स) की स्पीकर नैंसी पेलोसी ने अभिवादन के तौर पर उनसे हाथ मिलाने के लिए बढ़ाया। लेकिन ट्रंप ने उन्हें नजरअंदाज कर दिया। इसके बाद जैसे ही ट्रंप ने भाषण खत्म किया पेलोसी ने संसद में सबके सामने उनके संबोधन की कॉपी फाड़ दी। 

 

 

 

 

ट्रंप के भाषण की मुख्य बातें:-

  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका अब दुनिया में तेल और प्राकृतिक गैस का सबसे बड़ा उत्पादक बन गया है। मेरे सरकार ने तीन साल में ही  35 लाख लोगों को राजगार दिया है। 
  • अमेरिका का बड़ा, बेहतर और पहले से कहीं अधिक मजबूत होने का सपना वापस आया है।
  •  मेरा प्रशासन इस वक्त कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद का मुकाबला कर रहा है।
  • पिछले हफ्ते, मैंने इजरायल और फिलिस्तीनियों के बीच शांति के लिए एक शानदार योजना की घोषणा की। यह स्वीकार करते हुए कि पिछले सभी प्रयास विफल हो गए हैं, हमें इस क्षेत्र को स्थिर करने के लिए दृढ़ और रचनात्मक होना चाहिए।
  • ईरानी शासन को अपने परमाणु हथियारों पर काम करना छोड़ देना चाहिए। आतंक, मौत और विनाश को फैलाना बंद करना चाहिए और अपने लोगों की भलाई के लिए काम करना शुरू करना चाहिए।
  • हमारे शक्तिशाली प्रतिबंधों के कारण ईरानी अर्थव्यवस्था बहुत खराब काम कर रही है, हम उन्हें बहुत अच्छे और कम समय में रिकवरी करने में मदद कर सकते हैं, लेकिन शायद वे अति गर्व या मुर्खता की वजह से मदद के लिए पूछना नहीं चाहते हैं। हम यहां हैं, देखते हैं कि वे कौन सा रास्ता चुनते हैं, यह उनके ऊपर निर्भर है।
  • तीन साल पहले, आईएसआईएस के बर्बर लोगों ने इराक और सीरिया में लगभग 20,000 वर्ग मील क्षेत्र पर कब्जा कर लिया था, आज आईएसआईएस प्रादेशिक खिलाफत सौ फीसदी नष्ट हो गई है और आईएसआईएस के संस्थापक और नेता अल-बगदादी मर चुका है।
  • तीन साल के कार्यकाल में अमेरिका उस रफ्तार से आगे बढ़ा है, जिसकी कुछ समय पहले तक कल्पना करना मुश्किल था।
  • अपने कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाते हुए और अगले कार्यकाल के अपने दृष्टिकोण को स्पष्ट करते हुए कहा कि तीन साल पहले हमने ‘ग्रेट अमेरिकन कमबैक’ की शुरुआत की थी। आज मैं उसके अद्भुत नतीजे साझा करने के लिए आपके सामने खड़ा हूं।
  • अमेरिकी प्रशासन राष्ट्रीय सुरक्षा का दृढ़ता से बचाव कर रहा है और अमेरिकी नागरिकों का बचाव करते हुए, हम पश्चिम एशिया में अमेरिकी युद्ध को खत्म करने के लिए काम कर रहे हैं।
  • मेक्सिको के साथ लगी दक्षिणी सीमा की रक्षा करने के उनके प्रशासन द्वारा उठाए गए अभूतपूर्व कदमों पर जोर देते हुए कहा कि देश कानून का पालन करने वालों का अभयारण्य होना चाहिए न की अपराधियों का।
  •  चीन दशकों तक अमेरिका का फायदा उठाता रहा अब हमने वह बदल दिया है, लेकिन इसी के साथ ही हमारे चीन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ पहले से कहीं अच्छे संबंध हैं।कोरोनावायरस से निपटने के लिए हम चीन के साथ मिलकर इसका समाधान खोज रहे हैं। 
  •  कुछ दिन पहले, हमने चीन के साथ एक ऐतिहासिक समझौते पर हस्तक्षर भी किए थे, जो हमारे कर्मचारियों का बचाव करेगा, बौद्धिक सम्पदा की रक्षा करेगा, अरबों डॉलर हमारे कोष में लाएगा और अमेरिका में बने और बढ़े उत्पादों के लिए नए विशाल बाजार खोलेगा।

 

यह संबोधन स्थानीय समय के अनुसार मंगलवार रात नौ बजे (ईटी) यानि भारतीय समयानुसार बुधवार सुबह 7:30 बजे शुरू हुआ। स्टेट ऑफ द यूनियन का विषय ‘ग्रेट अमेरिकन कमबैक’  (अमेरिका की महान वापसी) था।

इस संबोधन को व्हाइट हाउस और दुनिया भर के कई समाचार नेटवर्कों द्वारा लाइव-स्ट्रीम किया गया। ट्रंप का ‘स्टेट ऑफ द यूनियन’ संबोधन ऐसे समय में आया जब सत्ता के दुरुपयोग और न्याय में बाधा के आरोपों को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति के संभावित दोषी ठहराए जाने के फैसले पर वोट करने के लिए सीनेटरों को उकसाया गया है।

यूनिवर्सिटी ऑफ एकॉन पॉलिटिकल साइंस के प्रोफेसर डेविड कोहेन के हवाले से कहा गया है कि हमारे राष्ट्र के इतिहास में यह अभूतपूर्व है कि फिर से चुनाव के लिए एक महाभियोगी राष्ट्रपति का चुनाव हुआ है। ट्रंप का यह भाषण व्हाइट हाउस में उनके कार्यकाल का तीसरा ‘स्टेट ऑफ द यूनियन’ संबोधन है। 

देश के 244 साल के इतिहास में यह तीसरी बार है जब किसी अमेरिकी राष्ट्रपति को पद से हटाने के लिए महाभियोग लाया गया है। इससे पहले 1868 में एंड्रयू जॉनसन और 1998 में बिल क्लिंटन के खिलाफ दोनों सदन द्वारा महाभियोग लाया गया था, लेकिन सीनेट के परीक्षण में बरी हो गए थे। एक अन्य राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन ने 1974 में एक राजनीतिक भ्रष्टाचार घोटाले में कुछ महाभियोग के कारण इस्तीफा दे दिया था।

आज ट्रम्प के महाभियोग पर भी होगी वोटिंग 

अमेरिकी संसद के उच्च सदन- सीनेट में बुधवार को ट्रम्प के महाभियोग प्रस्ताव पर वोटिंग होगी। ऐसे में माना जा रहा है कि ट्रंप अपने खिलाफ आरोपों पर भी बोल कर सांसदों को अपने पक्ष में वोट करने के लिए मना सकते हैं।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here