What Will Remain Open All Over India With Effect From 20th April 2020 – लॉकडाउन के बीच इकोनॉमी को चलाने के लिए 20 अप्रैल से इन सेक्टर्स में शुरू हो जाएगा काम

0
4


नई दिल्ली। देश की इकोनॉकी एक बार फिर से रीस्टार्ट करने के लिए सरकार ने पूरी तरह से तैयारी कर ली है। कल यानी 20 अप्रैल से कई सेक्टर्स में काम शुरू हो जाएगा। वैसे इसके लिए कुछ शर्तें भी रखी गई हैं। अगर उन शर्तों पर वो सेक्टर्स खरे नहीं उतरें तो उन पर पहले से ज्यादा पाबंदियां भी होंगी। वैसे इस बात तो खुद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 अप्रैल को अपने संबोधन में बोल चुके हैं। उन्होंने 20 अप्रैल की डेट दी थी। जिसके बाद कई तरह के कयास भी लगाए जा रहे थे किस सेक्टर्स को छूट मिलेगी और किस सेक्टर्स को कम या ज्यादा छूट मिलेगी। अब इस मामले से भी पर्दा हट गया है। खुद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की ओर से ट्वीट कर इसकी विस्तृत जानकारी दी है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर लॉकडाउन के बीच सरकार किन सेक्टर्स में रीस्टार्ट बठन दबाने जा रही है।

केंद्रीय मंत्री ने किया ट्वीट
केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी है के 20 अप्रैल से किन किन सेक्टर्स में किस तरह की शर्तों के साथ काम शुरू किया जा सकेगा। उन्होंने इस बात की भी जानकारी दी कि यह छूट कंटेनमेंट जोन में नहीं दी जाएगी। उनके अनुसार लॉकडाउन के दौरान जिस भी तरह की छूट दी जा रही है वो केंद्रीय गृह मंत्रालय की गाइडलाइन के अनुसार है। इन गाइडलाइन को सभी को फॉलो करना होगा। वहीं उन्होंने यह भी राज्य सरकारें अपने तरीके से भी नियमों को सख्ती से लागू कर सकती हैं।

शुरू होंगे यह उद्योग धंधे
– फार्मा और मेडिकल डिवाइस बनाने वाली कंपनियां कल से शुरू हो जाएंगी।
– आईटी हार्डवेयर की कंपनियों का काम भी शुरू हो जाएगा।
– शहर के बाहरी इलाकों में कंस्ट्रक्शन का काम शुरू हो सकेगा।
– कल से सभी सरकारी ऑफिस खुले रहेंगे।
– इमरजेंसी सर्विस के लिए प्राइवेट व्हीकल का शुरू हो जाएगा।
– ई-कॉमर्स कंपनियां भी अपना कामकाज शुरू कर सकेंगी.

इनके भी खुलेंगे तालें
– सरकारी गतिविधियों में काम करने वाले डेटा और कॉल सेंटर चालू हो जाएंगे।
– 50 फीसदी स्टाफ के साथ आईटी और संबंधित ऑफिस में काम शुरू हो जाएगा।
– मेंटेनेंस सर्विस और प्राइवेट सिक्योरिटी वाले भी कल से काम शुरू कर सकेंगे।
– हाईवे ढाबों और ट्रक रिपेयरिंग की दुकानों को खुलने की इजाजत मिली है।

दुकानों के शटर्स होंगे अप
– किराना और राशन की दुकानों के शटर्स उठ जाएंगे।
– फल और सब्जी की दुकानों को भी मिली है परमीशन
– डेयरी और मिल्क बूथ, पोल्ट्री, मीट, मछली और चारा बेचने वाली दुकानें भी खुलेंगी।
– इलेक्ट्रीशियन, आईटी रिपेयर्स, प्लंबर, मोटर मैकेनिक, कारपेंटर, कुरियर, डीटीएच और केबल सर्विसेस शुरू हो जाएंगी।

बैंकिंग से लेकर शेयर बाजार तक सभी में होगा काम
– बैंक, एटीएम खुले रहेंगे
– पेट्रोल, डीजल, केरोसीन, सीएनजी, एलपीजी और पीएनजी की सप्लाई जारी रहेगी।
– डाक घर और उनकी सेवाएं चालू रहेंगी।
– कैपिटल और डेट मार्केट सेबी के दिशा निर्देशों पर काम करेंगे।

रूरल इकोनॉमी भी होगी चालू
– ग्रामीण इलाकों में को-ऑपरेटिव सोसायटी शुरू हो जाएंगी।
– ग्रमीण इलाकों में निर्माण कार्य शुरू हो जाएंगे।
– ग्रामीण में पानी, बिजली और कॉम्युनिकेशन से जुड़े प्रोजेट्स पर काम दोबारा शुरू होगा।
– सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मनरेगा के कामों को करने की इजाजत।
– मनरेगा में सिंचाई और वॉटर कंजर्वेशन से जुड़े प्रोजेक्ट्स को प्राथमिकता।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here