Why Share Market Plunged Know The Reasons Behind It – क्यों लाल हुआ दलाल स्ट्रीट, प्वाइंट्स में समझें पूरा मामला

0
6


शेयर बाजार में गिरावट का दौर जारी है, और बाजार की इस हालत के पीछे ठोस कारण है। 2612 प्वाइंट्स के गिरने के साथ बाजार में 7.32 फीसदी का नुकसान हो चुका है

नई दिल्ली: गुरूवार 12 मार्च 2020 का दिन शेयर बाजार के लिए काफी उथल-पुथल भरा जा रहा है। 1200 अंको की गिरावट के साथ खुले शेयर बाजार में गिरावट का दौर जारी है, और बाजार की इस हालत के पीछे ठोस कारण है। हम आपको बाजार में आई सबसे गिरावट के कारण बताएं उससे पहले आपको बता दें कि ये अचानक आई गिरावट नहीं है बल्कि हाल के दिनों में बाजार लगातार गिरावट से जूझ रहा है जहां होली के एक दिन पहले यानि 9 मार्च सोमवार को बाजार में 8 लाख करोड़ से ज्यादा का नुकसान हुआ था वहीं आज बाजार खुलने के एक मिनट के अंदर निवेशकों का 6 लाख करोड़ रुपया स्वाहा हो गया । अब तक बाजार 2612 प्वाइंट्स के गिरने के साथ बाजार में 7.32 फीसदी का नुकसान हो चुका है। यही वजह है कि आज हर कोई इसके बारे में बात कर रहा है । चलिए अब आपको बताते हैं कि किस वजह से लाल हुआ शेयर बाजार-

कोरोना के खौफ में शेयर बाजार, अब निवेशक क्या करें

कोरोनावायरस महामारी-

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organization) के कोरोना वायरस को महामारी घोषित करने के बाद अमेरिका और भारत समेत कई देशों ने अपने बॉर्डर्स को कई देशों के लिए बंद कर दिया । जिसकी वजह से दुनियाभर में अफरा-तफरी का माहौल हन गया है। और नतीजा डाउ जोन्स में बिकवाली के रूप में नजर आया । पहले से सुस्ती से जूझ रही भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए ये बड़ा झटका साबित हुआ है।

अमेरिकी राष्ट्रपति का बयान- कोरोना महामारी की घोषणा के बाद जिसक तरह से अमेरिका ने यात्राओं पर रोक लगाई उससे वैश्विक निवेशकों का भरोसे में कमजोरी आई क्योंकि इस घोषणा की वजह से बिजनेस ट्रैवेल्स में की की वजह से ग्लोबल इकोनॉमिक स्लोडाउन के खतरे को बढ़ा दिया है।

कोरोना का कोहराम ! संसेक्स 2400 अंक गिरा, निफ्टी 2 साल में पहली बार 10000 के नीचे

FPI में बिकवाली- फॉरेन पोर्टफोलियो इंवेस्टर्स ने अब तक 3515.38 करोड़ रूपए के शेयर्स के बेचे हैं जबकि घरेलू निवेशकों ने मात्र 2835.46 करोड़ रुपए के शेयर्स ही खरीदें । जिसका परिणाम शेयर मार्केट में गिरावट के रूप में नजर आया।

रूपए में गिरावट- डॉलर के मुकाबले भारतीय रूपए में 82 पैसे की गिरावट दर्ज की गई है। इसके पीछे भी कारण कोरोना का डर था ।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here