World cancer Day 2020: Know why cancer symptoms come and go again and again

0
36


World cancer Day 2020: कैंसर एक जानलेवा बीमारी है। ठीक होने के बाद इसके दोबारा होने का खतरा होता है। यह मरीज के जीन में गड़बड़ी और रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने के कारण होती है। जीन में खामी के कारण एक ही परिवार के कई सदस्य कैंसर से पीड़ित हो रहे हैं।

कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. अनुराग सिंह ने बताया कि कैंसर में सबसे ज्यादा पलटवार स्तन कैंसर के मामलों में होता है। स्तन कैंसर के करीब 50 फीसदी मामलों में महिला को दोबारा कैंसर होने का खतरा रहता है। इसकी एक वजह इम्युनिटी कमजोर होना भी है। रेडियोथेरेपी और कीमोथेरेपी से भी इम्यूनिटी पर असर पड़ता है।

एपीसी और ब्रेका जीन जिम्मेदार-
पोद्दार अस्पताल के कैंसर सर्जन डॉ. मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि जीन में गड़बड़ी के कारण के कैंसर होने की आशंका करीब 70 फीसदी है। डीएनए के जीन ब्रेका-एक, ब्रेका-दो और एपीसी के कारण कैंसर के दोबारा होने का खतरा होता है।  

चार तरह के कैंसर सबसे घातक-
स्तन कैंसर, मुंह का कैंसर, सर्वाइकल कैंसर,फेफड़ों का कैंसर  

मिथक और सच्चाई
-मिथक: चेतावनी बिना आता है कैंसर
-हकीकत: ब्रिटिश जर्नल ऑफ जनरल प्रैक्टिस में प्रकाशित एक शोध के मुताबिक, कैंसर पीड़ित अधिकतर मरीजों के शरीर में बीमारी से जुड़ा कम से कम एक चेतावनी भरा लक्षण दिखता है, जिसे उन्होंने अनदेखा किया। 


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here