World Cancer Day 2020: What is cancer know 4 Most Dangerous types of Cancer symptoms and cure

0
55


World cancer day 2020: आज दुनियाभर में विश्व कैंसर दिवस मनाया जा रहा है। यह दिन हर साल 4 फरवरी को मनाया जाता है। इस खास दिन को मनाने के पीछे कैंसर के प्रति लोगों में जागरुकता फैलाना है। हर साल इस खास दिन के लिए एक खास थीम रखी जाती है। इस साल की थीम ‘I am and I will’ है। अक्सर ज्यादातर लोग कैंसर के लक्षणों को पहचान नहीं पाते और जब उन्हें इस बीमारी के बारे में पता चलता है, तब तक कैंसर आखिरी स्टेज में पहुंचकर जानलेवा बन जाता है। वहीं अगर कोई व्यक्ति समय रहते अपने शरीर में दिखने वाले कुछ संकेतों पर गौर कर ले तो काफी हद तक कैंसर के खतरे से बचा जा सकता है। 

चार तरह के कैंसर सबसे घातक-
स्तन कैंसर, मुंह का कैंसर, सर्वाइकल कैंसर,फेफड़ों का कैंसर

मिथक और सच्चाई
-मिथक:
चेतावनी बिना आता है कैंसर
-हकीकत: ब्रिटिश जर्नल ऑफ जनरल प्रैक्टिस में प्रकाशित एक शोध के मुताबिक, कैंसर पीड़ित अधिकतर मरीजों के शरीर में बीमारी से जुड़ा कम से कम एक चेतावनी भरा लक्षण दिखता है, जिसे उन्होंने अनदेखा किया। 

कैंसर के दोबारा होने के पीछे एपीसी और ब्रेका जीन जिम्मेदार-
पोद्दार अस्पताल के कैंसर सर्जन डॉ. मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि जीन में गड़बड़ी के कारण के कैंसर होने की आशंका करीब 70 फीसदी है। डीएनए के जीन ब्रेका-एक, ब्रेका-दो और एपीसी के कारण कैंसर के दोबारा होने का खतरा होता है।  

कैंसर के लक्षण-
-अनीमिया या खून की कमी-

अगर शरीर में आयरन की कमी के अलावा किसी और वजह से अनीमिया हो तो इसकी जांच जरूर करवानी चाहिए क्योंकि कई बार कैंसर की वजह से भी अनीमिया होने लगता है। इसके लिए आप एक्स-रे या इंडोस्कोपी करवा सकते हैं।

-लगातार खांसी या खांसने पर खून आए-
अगर किसी व्यक्ति को लंबे समय से खांसी हो या फिर खांसने पर थूक में खून नजर आए तो ये लंग कैंसर या नेक कैंसर हो सकता है। ऐसे में डॉक्टर से मिलकर कैंसर टेस्ट जरूर करवाएं।

-शरीर में ज्यादा दर्द और थकान-
अगर खानपान ठीक होने के साथ आपको ज्यादा मेहनत वाला कोई काम भी नहीं करना पड़ता लेकिन आप खुद को बेहद थका हुआ महसूस करते हैं और ऐसा लंबे समय से हो रहा हो तो ये शरीर में खून की कमी के साथ-साथ कैंसर का भी संकेत हो सकता है।

-शरीर के किसी हिस्से में हो गांठ
शरीर की हर गांठ कैंसर वाली हो ऐसा जरूरी नहीं है लेकिन अगर शरीर के किसी हिस्से में गांठ बन गई हो और वह तेजी से बढ़ रही हो तो देर करने की बजाए एक बार कैंसर का टेस्ट जरूर करवा लेना चाहिए। 

-तेजी से घटने लगे वजन-
तेजी से वजन कम होना भी कैंसर का सबसे अहम लक्षण है जिसकी अनदेखी नहीं करनी चाहिए। अगर किसी व्यक्ति का 2 से 3 महीने के अंदर 8 से 10 किलो वजन घट जाए तो उसे तुरंत कैंसर की जांच करवानी चाहिए। ये पेट का कैंसर या लंग्स कैंसर का संकेत हो सकता है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here