Wuhan hospital director Liu Zhiming dies due to Coronavirus in China

0
6


वुहान। चीन में जानलेवा कोरोना वायरस ( Coronavirus ) का तांड़व बरकरार है और मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यह वायरस तेजी के साथ फैलता जा रहा है। यही कारण है कि चीन ( China ) समेत दुनियाभर में दहशत का माहौल है।

चीन में अब तक मरने वालों की संख्या 1800 पार कर गई है और हर दिन मरने वालों की संख्या बढ़ रही है। जबकि संक्रमितों की संख्या 78 हजार से भी अधिक तक पहुंच गए हैं। कोरोना वायरस से संक्रमितों के इलाज के लिए सरकार की ओर से कई कदम उठाए गए हैं।

Coronavirus: डायमंड प्रिंसेस पर फंसे अपने 350 नागरिकों को बचाएगा हांगकांग, दो चार्टर विमान करेगा रवाना

पूरे चीन में 50 हजार से अधिक चिकित्सक मरीजों का इलाज करने में जुटे हुए हैं। इस बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। इस वायरस की चपेट में कई चिकित्सक ही आ गए हैं। मंगलवार को कोरोना ( COVID-19 ) की वजह से वुहान ( Wuhan ) में एक बड़े अस्पताल के डायरेक्टर की मौत हो गई। बता दें कि वुहान वही जगह है, जहां से यह वायरस फैलना शुरू हुआ था और अब करीब 30 देशों में पैर पसा चुका है।

अब तक 7 चिकित्सकों की हो चुकी है मौत

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार को वुहान के वुचांग अस्पताल के डायरेक्टर Liu Zhiming की कोरोना की चपेट में आने से मौत हो गई। चीनी मीडिया में बीती रात अचानक डायरेक्टर के मौत की खबरें आने लगीं, लेकिन थोड़ी देर में ही खबर हटा ली गई और बताया गया कि डायरेक्टर का अभी इलाज चल रहा है।

इससे पहले कोरोना की चपेट में आने से 6 स्वास्थ्यकर्मियों की मौत हो चुकी है। पूरे चीन में 1716 स्वास्थ्यकर्मी इस वायरस से संक्रमित हैं।

मालूम हो कि कोरोना वायरस को लेकर दुनिया को सबसे पहले बताने वाले 34 वर्षीय चीनी डॉक्टर ली वेनलियान्ग ( Li Wenliang ) की फरवरी के पहले सप्ताह में मौत हो गई थी। उस वक्त ग्लोबल टाइम्स ने बताया था कि डॉक्टर ली वेनलियान्ग की मौत कोरोना वायरस की चपेट में आने से हुई है। डॉक्टर ली वेनलियान्ग ने अस्पताल से वीडियो पोस्ट करके कोरोना वायरस को लेकर लोगों को चेताया था।

जापानी क्रूज डायमंड प्रिंसेस पर coronavirus s से संक्रमित 99 नए मामले, संख्या बढ़कर 454 तक पहुंची

डॉक्टर ली वेनलियान्ग को कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद 12 जनवरी को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा था। पिछले साल 30 दिसंबर को एक चैट ग्रुप में ली ने अपने साथी डॉक्टरों को संदेश भेजा था और इस वायरस के खतरे के बारे में बताया था। उन्होंने इससे बचने के लिए एक खास तरह के कपड़े पहनने के बारे में भी बताया था।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here