Youths Can Learn Skills During Lockdown – लॉकडाउन में भी युवाओं के लिए हैं कौशल सीखने के अवसर

0
46


लॉकडाउन (Lockdown) के चलते शैक्षणिक संस्थान बंद हैं, जिससे छात्रों का अध्ययन और कौशल सीखना बाधित है। इसी को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (National Skill Development Corporation) (एनएसडीसी) (NSDC) अपने ई-स्किल इंडिया एवं लर्निंग पोर्टल के जरिए युवाओं को घर बैठे नए कोर्स करने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है।

दुनियाभर में नोवेल कोरोनावायरस (Novel Coronavirus) के तेजी से फैलते संक्रमण को देखते हुए कई देशों की तरह भारत में भी 14 अप्रेल तक लॉकडाउन लागू था, जिसे अब 3 मई तक बढ़ा दिया गया है। लॉकडाउन (Lockdown) के चलते शैक्षणिक संस्थान बंद हैं, जिससे छात्रों का अध्ययन और कौशल सीखना बाधित है। इसी को ध्यान में रखते हुए राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (National Skill Development Corporation) (एनएसडीसी) (NSDC) अपने ई-स्किल इंडिया एवं लर्निंग पोर्टल के जरिए युवाओं को घर बैठे नए कोर्स करने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। एनएसडीसी के अनुसार, यह पोर्टल आधुनिक तकनीक के द्वारा युवाओं को कौशल प्रदान करता है और वर्चुअल लर्निंग एवं रिमोट क्लासरूम के माध्यम से सीखने को बढ़ावा देता है।

ई-स्किल इंडिया पोर्टल डिजिटल ज्ञान प्रदाताओं, जैसे सेल्सफोर्स, एसएएस, आईबीएम, टीसीएस, बैटरयू, सिंपलीलर्न, अमृता यूनिवर्सिटी आदि की पठन-सामग्री को समेकित करता है और युवाओं को समृद्ध पाठ्यक्रमों के साथ सशक्त बनाता है। इस इंटरफेस का इस्तेमाल वेब पोर्टल और ऐप के जरिए किया जा सकता है। इसके लिए पंजीकरण प्रक्रिया बेहद आसान है, उम्मीदवार आसान सर्च प्रणाली के जरिए अपनी पसंद का कोर्स चुन सकते हैं। यह पोर्टल ई-कोर्सेज के माध्यम से युवाओं को विभिन्न क्षेत्रों जैसे रीटेल, कृषि, परिधान्र स्वास्थ्यसेवा, ऑटोमोटिव, पर्यटन आदि में संचार कौशल, कस्टमर सर्विसए डिजिटल एवं वित्तीय साक्षरता में प्रशिक्षण देता है। ये विशिष्ट पाठ्यक्रम हिंदी भाषा में भी उपलब्ध हैं, जो उम्मीदवारों के लिए प्रशिक्षण लेना बेहद आसान बनाते हैं।

आसान है पंजीकरण
एनएसडीसी के अनुमोदित प्रशिक्षण साझेदारों (सरकारी योजना आधारित एवं शुल्क आधारित मॉडल्स) के माध्यम से पंजीकृत उम्मीदवार एनएसडीसी के अधिकृत आईडी का इस्तेमाल ई-स्किल इंडिया पर कोर्स शुरू कर सकते हैं, इसके लिए पंजीकरण प्रक्रिया बेहद आसान होती है। नए उपयोगकर्ता मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी के जरिए पंजीकरण कर सकते हैं और 10 से अधिक भाषाओं में पाठ्यक्रमों का लाभ उठा सकते हैं।

युवाओं के लिए फायदेमंद है कोर्सेस
एनएसडीसी के ई-स्किल इंडिया पोर्टल के माध्यम से उपलब्ध ऑनलाइन पाठ्यक्रम सरकार के कौशल भारत मिशन को डिजिटल रूप से आगे बढ़ाने में मदद करेंगे। ये ई-कोर्सेज युवाओं को तकनीकी कौशल, संचार कौशल, वित्तीय साक्षरता, सूचना एवं संचार प्रोद्यौगिकी, सूक्ष्म उद्यमिता कौशल में सशक्त बनाकर सामाजिक-आर्थिक आत्मनिर्भरता देता है। प्रशिक्षण प्रदाता उम्मीदवारों को घर बैठे कोर्स करने की आजादी देते हैं। युवाओं को कौशल प्रदान कर उनमें आत्मविश्वास उत्पन्न करना और उन्हें अपना रोजगार शुरू करने में मदद करना इसका उद्देश्य है। कोर्स पूरा करने के बाद उम्मीदवारों को फोर्मेटिव एवं समेटिव असेसमेंट के बाद ई-सर्टिफिकेट भी दिया जाता है।

ई-स्किल इंडिया, एसएएस इंडिया, आईबीएम एवं अन्य ज्ञान प्रदाताओं के द्वारा बिग डेटा, मशीन लर्निंग एवं एनालिटिक्स पर पेश किए गए नेक्स्ट जैन कोर्सेज के जरिए रीस्किलिंग एवं अपस्किलिंग की सुविधाएं भी देता है। एनएसडीसी का कहना है कि सेल्सफोर्स के साथ साझेदारी में वह युवाओं के कौशल विकास एवं क्षमता निर्माण के लिए प्रतिबद्ध है। यह साझेदारी युवाओं और प्रशिक्षकों को आने वाले कल के लिए तैयार करती है।

ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज के साथ साझेदारी में एनएसडीसी (NSDC) ने खासतौर पर महिलाओं के लिए देश के पहले कौशल विकास ऑनलाइन प्रोग्राम की शुरुआत की है। यह साझेदारी 10000 गृहिणियों को ई-लर्निंग सेवाएं प्रदान करती हैं। इस साझेदारी के तहत अप्रे्रल से जून, 2020 के बीच ऑनलाइन प्रशिक्षण दिए जाएंगे। भारत की महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर एवं नौकरी सृजक बनाने के लिए ‘ब्रिटानिया मारी गोल्ड माय स्टार्टअप’ पहल की शुरुआत की गई है।












LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here